Robotics me banaye bhavishya | रोबोटिक्स अवसर नहीं भविष्य सुरक्षित रखता है

Robotics me banaye Bhavishya : आधुनिक युग में विज्ञान ने इतनी तरक्की कर ली है। कि मानव नए नए ऐसे उपकरण इजाद कर रहा है। जिसकी कल्पना करना भी एक समय में मुश्किल था। उसी में से एक है रोबोटिक्स। रोबोट नाम सुनते ही आप समझ जाते है कि इंसानी तरीके से काम करने की प्रवृत्ति रखने वाला मशीनरी इंसान जो आने वाले भविष्य में इंसान की जगह रोबोट काम करेगा । आधुनिकता के दौर में इसकी शुरुआत भी हो चुकी है इस पर फिल्मे बन चुकी है वो दिन दूर नहीं जब इंसान खुद काम न करके अपने सारे काम रोबोट से करवाएगा । मगर सवाल यह है कि रोबोट अगर कोई भी काम करेगा तो उसे कैसे पता चलेगा कि यह सही है या गलत । मसलन मानव जो काम उसे सौंपेगा रोबोट को कैसे पता चलेगा कि यह काम जो दिया गया है कितना सही है और कितना गलत । आज हम इसी का उत्तर जानने कि कोशिश करेंगे साथ ही पूरे विस्तार से आपको बताएंगे कि रोबोट के कार्य करने की क्षमता से लेकर और भविष्य में मानव जीवन पर इसका क्या प्रभाव पड़ेगा । मगर आज रोबोटिक्स की मांग ने मानवजाति की चिंता बढ़ा दी है लेकिन दूसरी तरफ नजर डाले तो आज रोटोटिक्स की दुनिया है और इसमें रोजगार , अवसर तो मिल ही रहे है साथ ही भविष्य भी सुरक्षित रहता है आज हम इसी के बारे में आपको बताएंगे।

Kya hai Robotics (Robotics in Hindi)

What is Robotics in Hindi: रोबोटिक्स इंजीनियरिंग की एक शाखा है।जिसके तहत ही रोबोट का निर्माण किया जाता है। अगर आप देखें तो इसने रोबोट की डिजाइनिंग , निर्माण की प्रक्रिया , उसकी कार्य क्षमताओं और उनसे जुड़ी प्रोग्रामिंग की भी बात होती है। इस रोबोटिक्स शाखा के अंतर्गत आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस का भी अध्यन किया जाता है । इसका मकसद ऐसा रोबोट बनाना होता है जो तमाम तरह की समस्याएं हल कर सकें ये सिर्फ प्रोग्राम आधारित मशीनें ही होती है और उसमे सेटिंग की जाती है जिसके जरिए वो काम करना शुरू करना है रोबोटिक्स को चार वर्गो में बांटा गया है औधोगिक रोबोट , पर्सनल रोबोट, मेडिकल रोबोट , ऑटोनॉमस रोबोट । जो सबसे बड़ी और महत्पूर्ण श्रेणी में रखा गया है वह औधोगिक रोबोट है अब समझते है अन्य बातें।

Robotics kitne prakar ke hote hai (Types of Robotics in Hindi)

Types of Robotics in Hindi: दोस्तों सही मायनों में आज का युग रोबोट का युग है। और इसको हम पहले ही परिभाषित कर चुके है। अब जानते है। इसके प्रकार के बारे में।

Industrial Robot

साल 1959 में जनरल मोटर्स के लिए जोर्ज देवोल द्वारा डिजाइन किया गया रोबोट पहला औधोगिक रोबोट माना गया। अल्टीमेट एक रोबोट आर्म होता है। जो पूर्ण रूप से ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग के जैसे काम करता है। पहले यह रोबोट मानव जीवन के लिए काफी खतरनाक माना गया। लेकिन बाद में तमाम लोगों ने इसे भविष्य की खोज बताकर इसे स्वीकार कर लिया। आज देश विदेश में ज्यादातर जगहों में सामान्य से दिखने वाले रोबोट ही काम कर रहे है।

Medical robot

रोबोटिक्स का फायदा सबसे अधिक हुआ है तो वो है मेडिकल क्षेत्र। जहां रोबोटिक्स द्वारा कई प्रकार की डिफिकल्ट सर्जरी की जाती है। सही मायनों में कहें तो चिकित्सा के क्षेत्र में रोबोट ने क्रांति ला दी। आज ऑटोमेटिकली तरीके से रोबोट मेडिकल क्षेत्र में मरीजों और डॉक्टरों के लिए वरदान साबित हो रहे।

Robotics engineering me khulengi Jobs

अगर आप रोबोटिक्स की दुनिया में अपना करियर बनाना चाहते है। तो इसके लिए इंजीनियरिंग डिग्री आवश्यक है। इस क्षेत्र में इलेक्ट्रॉनिक्स , मैकेनिक्स , एवं कम्प्यूटर साइंस जैसे सहयोगी क्षेत्र का ज्ञान भी बहुत जरूरी होता है ।इससे पहले आपका 12 वीं में भौतिक विज्ञान और गणित विषय होना जरूरी है। इसके बाद आप कम्प्यूटर आइटी इलेक्ट्रॉनिक्स या इलेक्ट्रिकल इंजीनियरिंग में बीई या बीटेक की डिग्री भी लेनी होगी । साथ ही इस क्षेत्र में करियर बनाने के लिए मशीनों कि कार्य प्रणाली को समझने में रुचि होना आवश्यक है आपको तर्कसंगत और अच्छी तरह सोचने और विश्लेषण करने की क्षमता डिजाइन और कौशल भी जरूरी है । ये सभी बातें ही आपके लिए राह खोलेंगी।

Robotics me kitni milti h salary

आप जितना आसान समझते है इस क्षेत्र को वह है नहीं । लेकिन अगर आप एक बार ठान लेंगे करने की को चीजें आसान लगने लगेंगी । एक आकलन के मुताबिक इंडियन इंडस्ट्रियल रोबोटिक्स मार्केट में 2018 में 4564 यूनिट रोबोट थे जिसमे 2014 तक 13 फीसदी की बढ़ोत्तरी हुई ।भारत में प्रति 10 हजार कर्मचारी एक रोबोट की उपस्थिति है आगे और भी मांग बढ़ेगी । जैसे जैसे दुनिया तकनीकी दुनिया के अंदर और जाएगी । राहें और विकल्प और खुलेंगे । यह राहें लगभग सभी क्षेत्रों में होंगी । रोबोट का प्रयोग इंटरटेनमेंट , जांच एजेंसी, पुलिस विभाग , रक्षा विभाग , खुफिया एजेंसी ,बैंकिंग से जुड़े कामों मे प्रयोग होंगे । इसमें शुरुआती वेतन आपको 5-6 लाख सालाना मिल सकता है उससे भी ज्यादा हो सकता है जब आप प्रोफेशनल टीम लीड करेंगे । तो 40से 50 लाख कमा सकते है इसके लिए देश और विदेश में कई तरह के संस्थान है ।

Leave a comment